National

NEET Result 2024: नीट में रांची के मानव को ऑल इंडिया रैंक-1, कम खाते थे ताकि रात में देर तक पढ़ सकें

🄼🄰🄽🄸🅂🄷 🅃🄸🅆🄰🅁🄸

रांची. 5 जून 2024|झारखंड की राजधानी रांची के रहने वाले मानव प्रियदर्शनी ने एनटीए की ओर से जारी नीट 2024 रिजल्ट में सफलता का परचम लहराया है. पूरे देश में नंबर वन रैंक लाकर उन्होंने रांची का ही नहीं, पूरे राज्य का नाम रोशन किया है. मानव ने Local 18 से खास बातचीत की और बताया कि उम्मीद थी कि टॉप करूंगा पर वन नंबर रहूंगा ये नहीं सोचा था.

मानव बताते हैं कि इस सफलता का श्रेय मेरे पेरेंट्स, मेरे स्कूल और कोचिंग इंस्टिट्यूट के टीचर्स को जाता है, जिन्होंने हमेशा मुझे अच्छा करने के लिए मोटिवेट किया. मैंने जेवीएम शामली से शुरुआती से लेकर 12 तक पढ़ाई की है. वहां के टीचर्स काफी सपोर्टिव रहे हैं. कोई भी डाउट होता तो वे क्लियर करने के लिए हमेशा रेडी रहते. हमेशा मोटिवेट भी करते.

Related Articles

रिवीजन और प्रैक्टिस जरूरी
मानव ने बताया कि हर सब्जेक्ट को इक्वल इंर्पोटेंस देना जरूरी है. इसके अलावा समय-समय पर रिवीजन और प्रैक्टिस करना बेहद जरूरी है. साथ ही, मॉक टेस्ट देते रहने से भी अपनी तैयारी पता चलते रहती है. हालांकि, कभी-कभी मार्क्स कम आते थे. लेकिन, देखता था कि आखिर कहां कमी रह गई, फिर उस पर काम करके दोबारा मॉक टेस्ट में अच्छे नंबर लाया करता था.

रात तक पढ़ाई
उन्होंने आगे बताया कि हर दिन 4-5 घंटे की पढ़ाई हो जाती थी. क्योंकि, कोचिंग 4 घंटे की होती थी. उसके बाद घर जाकर सेल्फ स्टडी किया करता था. कई बार तो पढ़ते-पढ़ते रात के 3-4 भी बज जाते थे. लेकिन, कंसिस्टेंसी कभी नहीं छोड़ी. क्योंकि, मेरा गोल क्लियर था कि मुझे डॉक्टर ही बना है और एम्स दिल्ली जाना है.

सोशल मीडिया से दूरी
इसके अलावा, इन दो सालों में सोशल मीडिया से मैंने पूरी तरह दूरी बना ली थी. इंस्टाग्राम को अन इंस्टॉल कर लिया था. कोई भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नहीं था. क्योंकि, यह मेरे पढ़ाई को काफी डायवर्ट कर रहा था. मेरा हॉबी फुटबॉल और क्रिकेट खेलना है, इसलिए समय मिलता था तो इन दोनों में हाथ जरूर आजमाता था, इससे माइंड फ्रेश हो जाता था.

जंक फूड से भी दूर रहा
वहीं, पढ़ाई के दौरान जंक फूड से भी पूरी तरह परहेज किया. हालांकि, महीने में दो बार चीट मील हो जाता था. जैसे आइसक्रीम या कुछ और, पर हमेशा हल्के से हल्का भोजन किया करता था, ताकि लंबे समय तक पढ़ाई में आसानी रहे. फिटनेस मेंटेन रहे. मां के हाथ का बना दाल-चावल मेरा फेवरेट है. दुनिया का यह सबसे बेहतरीन खाना है, इसका कोई जवाब नहीं.

रोनाल्डो हैं मेरे हीरो
मानव बताते हैं कि क्रिस्टियानो रोनाल्डो मेरे हीरो हैं. वह मेरे सबसे फेवरेट हैं. क्योंकि, जिस तरीके से वह हमेशा डिसिप्लिन में रहते हैं, अपने गोल के प्रति ईमानदार रहते हैं, जुनून है, फिटनेस और उनका शानदार परफॉर्मेंस, मुझे हमेशा अच्छा करने के लिए प्रोत्साहित करता है. मैं उनको देखकर काफी कुछ सीखता हूं.

Manish Tiwari

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button