Chhattisgarh

12 करोड़ रुपये की लागत से होगा डोंगरगढ़ स्टेशन का होगा यात्री सुविधाओं का विकास

रायपुर/बिलासपुर, 7 मार्च 2024|रेल मंत्रालय के महत्वाकांक्षी परियोजना के अंतर्गत यात्रियों को विश्वस्तरीय सुविधा प्रदान करने हेतु “अमृत भारत स्टेशन” योजना के अंतर्गत स्टेशनों के कायाकल्प की तैयारी की जा रही है । इस कड़ी में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की 49 स्टेशनों एवं छत्तीसगढ़ राज्य के अंतर्गत 32 स्टेशनों का पूनर्विकास अमृत भारत स्टेशन योजना के अंतर्गत किया जा रहा है । अभी हाल ही में 26 फरवरी’ 2024 को माननीय प्रधान मंत्री जी के द्वारा अमृत भारत स्टेशन योजना के द्वितीय चरण में देश के 553 रेलवे स्टेशनों के साथ दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे की 37 स्टेशनों एवं छत्तीसगढ़ राज्य के अंतर्गत 21 स्टेशनों के पुनर्विकास के कार्य का शिलान्यास किया गया, जिसमें डोंगरगढ़ स्टेशन भी शामिल था । डोंगरगढ़ रेलवे स्टेशन को आने वाले 40–50 सालों के यात्रियों की संख्या को ध्यान में रख कर इस वृहत कार्य की योजना बनाई गई है ।

डोंगरगढ़ रेलवे स्टेशन को विकसित करने का लक्ष्य रेल यात्रियों को विश्वस्तरीय सुविधाएं और बेहतर यात्रा अनुभव प्रदान करना है । रेलवे स्टेशन के आसपास अच्छी व्यवस्थाएं होने से आर्थिक गतिविधियों को भी बढ़ावा मिलेगा ।

रेलवे देश की लाइफ लाइन है । रेलवे लगातार यात्री सेवा को सुलभ करने के ल‍िए नवीनतम तकनीक, सुविधाओं और बुनियादी ढांचे को आधुनिक बनाने पर काम कर रही है । इसी कड़ी में देशभर के रेलवे स्टेशनों की कायापलट करने पर काम क‍िया जा रहा है । अमृत भारत स्टेशन योजना का मकसद सुविधाओं की शुरुआत के साथ मौजूदा सुविधाओं के अपग्रेडेशन पर भी काम करना है ।

अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत डोंगरगढ़ स्टेशन में विकास के अनेक कार्य कराये जाएंगे, जिसमें यह स्टेशन आधुनिक सुविधाओं से युक्त हो जायेगा । आगमन और प्रस्थान के लिये अलग मार्ग, चौड़ा फुट ओवर ब्रिज, वाल पेंटिंग्स व म्यूरल्स में स्थानीय संस्कृति की झलक,आकर्षक कॉनकोर्स, वेटिंग हॉल में फर्नीचर्स, कोच एवं ट्रेन इंडिकेशन बोर्ड,आकर्षक पोर्च, पार्किंग्स की सुविधा, चौड़ा फुटपाथ, स्टेनलेस स्टील चेयर, अपग्रेडेड अनारक्षित टिकट और पैसेंजर रिज़र्वेशन सिस्टम, अंतर्राष्ट्रीय स्तर के साइनेज, स्टेशन परिसर में हाई मास्ट से प्रचूर लाइट , सीसीटीवी द्वारा निगरानी, बुजुर्ग, बच्चे एवं दिव्यांगजनों की सुविधा के लिए 04 लिफ्ट एवं 02 एस्केलेटर, गार्डन व मनमोहक लैंड स्केपिंग, आधुनिकता व परंपरा को एक साथ प्रदर्शित करता शानदार फसाड इत्यादि अत्याधुनिक सुविधायें यहाँ उपलब्ध होंगी ।

डोंगरगढ़ धार्मिक सद्भावना की नगरी है । यहां पर बहुत सारे धार्मिक एवं प्रकृतिक पर्यटन स्थल है, जिसमें शक्तिपीठ माँ बमलेश्वरी देवी का मंदिर, प्रज्ञागिरी बौद्ध मंदिर, चंद्रागिरी पहाड़ी पर स्थित जैन तीर्थंकर चंद्रप्रभु जी का प्राचीन मंदिर सहित अनेक पर्यटन स्थल अवस्थित है । डोंगरगढ़ स्टेशन में यात्री सुविधाओं का विकास आनेवाले दिनों में यहां के पर्यटन को नई ऊंचाई प्रदान करेगा । पर्यटकों की संख्या में वृद्धि होगी । इसी शृंखला में बिलासपुर-नागपुर-बिलासपुर वन्दे भारत एक्सप्रेस का यहां ठहराव दिया गया है । इससे यात्रियों को इन पर्यटन स्थलों तक पहुंचने में अधिक सुविधा के साथ कम समय लगेगा । साथ ही डोंगरगढ़ के निवासियों के लिए छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर सहित न्यायधानी बिलासपुर, दुर्ग, गोंदिया और नागपुर तक पहुँच आसान हो जाएगी ।

इससे यात्रियों के लिये आरामदायक व सुलभ यात्रा के साथ ही साथ उन्हें नया यात्रा अनुभव प्राप्त होगा तथा संस्कृति, पर्यटन और व्यापार में भी व्यापक विस्तार होगा । दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे यात्री सुविधा एवं विकास के लिए प्रतिबद्ध है तथा भविष्य में भी उन्नत और आधुनिक यात्री सुविधा के कार्य जारी रहेंगे, जिसका एक महत्वपूर्ण प्रतीक डोंगरगढ़ स्टेशन के पुनर्विकास के कार्य हैं

Related Articles
Manish Tiwari

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button