ChhattisgarhCrime

रायपुर पुलिस के निजात अभियान के तहत नशे के विरुद्ध लगातार प्रहार : मारपीट में 5%, हत्या के प्रयास में 22 %, चाकूबाजी में 31 प्रतिशत, छेड़छाड़ में 23 फीसदी, चोरी में 5% की आई कमी


00अभियान के चार माह में पिछले सालों की इसी अवधि की तुलना में आईपीसी के कुल अपराधों में 7 फीसदी की कमी00

00एनडीपीएस व आबकारी में ताबड़तोड़ कार्यवाही में कुल 3,157 प्रकरणों में 3,241 व्यक्ति गिरफ्तार हुए जिसमे गैर- जमानतीय प्रकरणों में 378 आरोपी जेल गए। 6,176 लीटर शराब जप्त00

00नशे के विरुद्ध वृहद जनजागरुकता के तहत 3,412 कार्यक्रम किए गए। थानों में नशे के आदी लोगों की काउंसलिंग हो रही, जिससे सैकड़ों लोग नशे से हुए दूर00

रायपुर, 1 जून 2024| इस वर्ष फरवरी माह से डीजीपी अशोक जुनेजा के निर्देशन में आईजी रायपुर अमरेश मिश्रा व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रायपुर संतोष सिंह के मार्गदर्शन में अवैध नशा के विरुद्ध अभियान निजात चलाया जा रहा है। पुलिस अधीक्षक रायपुर संतोष सिंह के निर्देशानुसार राजपत्रित अधिकारियों के पर्यवेक्षण में रायपुर के सभी थाना प्रभारियों द्वारा उनके क्षेत्र में अवैध नशा के कार्य में संलिप्त लोगों के विरुद्ध ताबड़तोड़ तरीके से कार्यवाही व व्यापक जागरूकता कार्यक्रम किए गए है।



एसएसपी संतोष सिंह ने बताया कि कुल अपराधों में बढ़ोतरी हुई है, जो की मुख्यतः एनडीपीएस और आबकारी में बढ़ी कार्यवाहियां की वजह से हैं।


अभियान दौरान आबकारी और एनडीपीएस के
3,157 प्रकरणों में 3,241 व्यक्ति गिरफ्तार हुए जिसमे गैर- जमानतीय प्रकरणों में 378 आरोपी जेल गए। 6,176 लीटर शराब, गांजा 949 किलो, एमएएमडी 4.5 ग्राम, हीरोइन 20 ग्राम, अफीम 161 ग्राम, टैबलेट 10,336, सीरप 122 नग  व और अन्य नशीली वस्तुएं जप्त हुआ है। आबकारी में गिरफ्तार लोगों में बड़ी संख्या सार्वजनिक स्थलों पर शराब सेवन कर हुडदंग करने वाले लोग हैं। इन कार्यवाहियों से अपराधियों में दहशत हुई हैं।


कोटपा में 1141 लोगों पर कार्यवाही हुई। नशा में गाड़ी चलाने वाले 983 लोगों पर एमवी एक्ट के कार्यवाही करते हुए प्रत्येक प्रकरण को कोर्ट भेजा गया, जहां प्रत्येक ऐसे चालक पर दस-दस हजार रुपए का भारी-भरकम जुर्माना लगाया गया है। 2023 पूरे वर्ष में कोटपा में 30 व्यक्ति और 185 एमवी एक्टमें 610 प्रकरण हुए थे।



इसके अलावा नशे के विरुद्ध जनजागरुकता के तहत लोगों के सहयोग से स्कूल कॉलेज और सार्वजनिक जगहों पर कुल लगातार कार्यक्रम किए जा रहे हैं और नशे आदी सैकड़ों लोगों की लिस्टिंग कर उनकी विभिन्न संस्थाओं की मदद थानों में काउंसलिंग की जा रही है।

Manish Tiwari

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button