Chhattisgarh

सत्ता जाने से कांग्रेस नेताओं में बौखलाहट, बलौदाबाजार की घटना पर कांग्रेस कर रही राजनीति : उपमुख्यमंत्री अरुण साव



*छत्तीसगढ़ में अराजकता और हिंसा नहीं की जाएगी बर्दाश्त, असामाजिक तत्वों पर होगी कठोर कार्रवाई : उपमुख्यमंत्री साव*

*छत्तीसगढ़ की शांति और कानून व्यवस्था के लिए सरकार पूरी तरह से सजग : उपमुख्यमंत्री साव*


रायपुर। कांग्रेस जांच दल के बलौदाबाजार घटना स्थल जाने पर उपमुख्यमंत्री श्री अरुण साव ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि, कांग्रेस बलौदाबाजार जैसी घटना पर भी राजनीति कर रही है। यह बेहद शर्मनाक है। जबकि सरकार ने इस घटना को गंभीरता से लिया है। मामले में तत्काल कार्रवाई करते हुए पहले कलेक्टर-एसपी को हटाया गया, फिर दोनों को सस्पेंड किया गया। मामले में कई एफआईआर दर्ज की गई है। साथ ही कई उपद्रवियों को गिरफ्तार किया गया है। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि, धरना स्थल में कई कांग्रेस नेता उपस्थित थे। इन नेताओं का वहां क्या काम था? दरअसल, कांग्रेस नेताओं ने लोगों को भड़काने का काम किया है।



श्री साव ने कहा कि, सत्ता जाने के बाद कांग्रेस नेताओं में भारी बौखलाहट है। ये लोग अपनी राजनीति के लिए छत्तीसगढ़ को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, इसे जनता जान चुकी है। वहीं सरकार पूरी तरह से सजग है, छत्तीसगढ़ में किसी भी कीमत पर अराजकता और हिंसा बर्दाश्त नहीं की जाएगी। असामाजिक तत्वों पर कठोरता से कार्रवाई की जाएगी।

उपमुख्यमंत्री ने बताया कि, सरकार ने बलौदाबाजार घटना की जांच के लिए न्यायिक आयोग गठित की है। छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश श्री सीबी बाजपेयी की एकल सदस्यीय टीम घटना की जांच करेगी और 3 महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंपेगी। सरकार छत्तीसगढ़ की शांति और कानून व्यवस्था के लिए पूरी तरह से सजग है।
…….   ………

Manish Tiwari

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button